Login Form

If you are not registered please Sign Up|Forget Password

signup form

If already registered please Login

Gemstones

25 Apr, 2018 Blog

गोमेद

गोमेद या गार्नेट छाया ग्रह राहू का रत्न है| ज्योतिष में साधारणतया राहू एक पापी अशुभ (malefic) ग्रह माना जाता है| तो पापी ग्रह के लिए क्यों रत्न धारण किया जाये?

राहू हालाँकि कुंडली में अशुभ माना गया है पर यदि केंद्र में स्थित राहू को गोमेद धारण से अनुकूल बना दिया जाये या राहू की दशा में गोमेद (Garnet gemstone) पहना जाए तो यही राहू भौतिक रूप से धन सम्पदा , sudden fortunes आदि प्रदान करने में सक्षम हो जाता है|

एक अच्छे गोमेद (Garnet gemstone) में क्या गुण होने चाहिए?:-

एक अच्छे गोमेद का रंग गौमूत्र (cow urine) की तरह या शुद्ध शहद (honey colour) की तरह होना चाहिये|
ज्योतिषीय उद्देश्यों के लिए सिर्फ ग्रोस्सुलराईट जाती का हेस्सोनाईट गार्नेट (Grossularite Hessonite Garnet) ही पहनना चाहिये|
Light के against देखने पर एक अच्छा गोमेद (Garnet gemstone) शहद से भरा liquid जैसा दिखता है|
पत्थर की सतह पर कोई खरोंच या dent नहीं होना चाहिये|
पत्थर किसी कोने से टूटा चटका नहीं होना चाहिये|
पत्थर के अन्दर काले धब्बे (black spots) नहीं होने चाहिये|
गोमेद (Garnet gemstone) की प्रजाति Hessonite कई रंगों में आती है| इस प्रजाति के समस्त रंगों में शास्त्रोक्त रंग जो राहू से सम्बंधित है वो गौमूत्र के जैसे, शुद्ध शहद (honey colour ) के जैसे रंग को प्रतिबिंबित करने वाला रत्न है| धारण करते समय ज्योतिषी से सलाह कर लेना चाहिए।

Garnet gemstone अलग अलग रंगों के खनिज का समूह है जिनकी crystal structure व chemical components सामान होते हैं| ये रत्न पन्ने जैसे हरे रंग से लेकर लाल, संतरी, पीले और भूरेपन लिए काले रंग तक आते हैं|

भारत के सर्वश्रेस्ठ ज्योतिषाचार्यो से परामर्श करें

  • अपने दैनिक राशिफल,जन्म कुंडली निर्माण वर -कन्या की जन्म कुंडली मिलान,महामृत्युंजय जाप, राहु शान्ति, एवं जीवन की समस्याओं के बारे में जानने के लिये सशुल्क सम्पर्क करें

    Book Your Appointment

Leave a reply

Download our Mobile App

  • Download
  • Download