Login Form

If you are not registered please Sign Up|Forget Password

signup form

If already registered please Login

Blog

30 Oct, 2018 Blog

Diwali Par Sukh Samridhi Ke Liye Karein Ye Upaay / दिवाली पर सुख समृद्धी के लिये करें ये उपाय

https://youtu.be/RQ_s5VDydaw

दिवाली पर सुख समृद्धी के लिये करें ये उपाय


१. सरसों के तेल से दरिद्रता दूर भागती है, सुख समृद्धि में वृद्धि होती है और भूत-प्रेत, ऊपरी बलाएं आदि पास नहीं आ पाते ,इसलिए सरसों तेल का दीपक दीपावली की रात्रि अवश्य जलाएं |
२. रात्रि को मुख्य पूजन में अपने बही खाते, कलम, पर्स, सोना-चांदी, रत्न, आभूषण, धन आदि रखें। विद्यार्थीगण अपनी पुस्तकें अवश्य रखें। इससे सभी कामनाएं पूरी होती हैं। इसके अतिरिक्त श्री यंत्र, एकाक्षी नारियल, श्रीफल, शंख मालाओं और सभी देवी देवताओं की मूर्तियों का भी पूजन अवश्य करें।
३. रात्रि को ग्यारह से एक बजे के मध्य इस मंत्र का कमलगट्टे या स्फटिक की माला से ग्यारह बार जप करें तथा हर एक माला पूरी होने पर अपनी मनोकामना कहें।अगर दिव्या गुटिका या डिब्बी है तो उस पर इस मंत्र का किया गया जप इसके प्रभाव को कई गुना बढ़ा देता है |
मंत्र ¬ ह्रीं क्लीं महालक्ष्म्यै नमः
४. दीपावली के अवसर पर श्री सूक्त का पाठ करें। श्री सूक्त की ऋचाओं का हवन करने से भी मां लक्ष्मी अपने साधकों पर प्रसन्न होती है।
5. दीपावली की संध्या के पश्चात काली उड़द के दो साबुत पापड़ लेकर उस पर थोड़ा सा दही और सिंदूर डाल दें और उसे पीपल के पेड़ के नीचे रख दें। तिल के तेल से युक्त आटे से बना चैमुखी दीपक भी पीपल के पेड़ के नीचे जड़ के पास जला दें। अपनी मनोकामना कहें तथा कष्ट, परेशानियों को वहीं छोड़ जाने की बात कहें। सीधे घर आकर अपने हाथ-पैर धो लें। ध्यान रहे आने-जाने में कोई टोके नहीं। मनोकामना पूर्ण होगी। धन, सुख, समृद्धि में वृद्धि होगी।

निर्विघ्न साझेदारी के लिए टोटका

दीपावली की रात्रि को लक्ष्मी-पूजन करने के पश्चात् कच्चे सूत के कुछ धागे एक साथ रखकर उन्हें बटकर रस्सी जैसी बना लें । मातेश्वरी लक्ष्मीजी के पूजन-स्थल पर उनका ध्यान करते हुए यह प्रक्रिया पूर्ण करें । सूत की इस डोरी पर पूजन की रोली के छींटे लगाएँ और पूजन कर दें |इसे रात्रिभर पूजा के थाल में रखा रहने दें । दूसरे दिन कार्यालय, पैâक्ट्री अथवा दुकान में इसे किसी ऊँची कील अथवा खूँटी पर टाँग दें । पूरे वर्ष इसे एक ही जगह टँगा रहने दें । प्रत्येक दीपावली पर इस विधि से नई डोरी बनाकर वहाँ टाँगें और पुरानी डोरी को पवित्र नदी या सरोवर में विसर्जित कर दें । सूत की इस डोरी के समान ही दृढ़ साझेदारी बनी रहेगी ।

धन प्राप्ति के लिए


दीपावली के दिन प्रात: व्यक्ति बिना स्नान किए, बिना दातुन किए, एक नारियल को पत्थर से बाँधकर नदी या तालाब के जल में डुबो दे और डुबोते समय प्रार्थना करें कि शाम को मैं आपको लक्ष्मी के साथ लेने आऊँगा । सूर्यास्त के बाद उस नारियल को जल से निकालकर ले आवें तथा लक्ष्मीपूजन के समय उसकी भी पूजा कर भण्डारगृह या संदूक में रख दें, तो पूरे वर्ष असाधारण रूप से धन प्राप्त होता रहता है ।

भारत के सर्वश्रेस्ठ ज्योतिषाचार्यो से परामर्श करें

  • अपने दैनिक राशिफल,जन्म कुंडली निर्माण वर -कन्या की जन्म कुंडली मिलान,महामृत्युंजय जाप, राहु शान्ति, एवं जीवन की समस्याओं के बारे में जानने के लिये सशुल्क सम्पर्क करें

    Book Your Appointment

Leave a reply

Download our Mobile App

  • Download
  • Download